You are currently viewing आहट सी कोई आए तो लगता है कि तुम हो
साया कोई लहराए तो लगता है कि तुम हो

जब शाख़ …
आहट-सी-कोई-आए-तो-लगता-है-कि-तुम-हो

आहट सी कोई आए तो लगता है कि तुम हो साया कोई लहराए तो लगता है कि तुम हो जब शाख़ …

आहट सी कोई आए तो लगता है कि तुम हो
साया कोई लहराए तो लगता है कि तुम हो

जब शाख़ कोई हाथ लगाते ही चमन में
शरमाए लचक जाए तो लगता है कि तुम हो
~#जां_निसार_अख़्तर

#बज़्म #शायरी #हिन्दी_शब्द #Ummeed.
#गज़ल https://t.co/DCR6U48zlv
आहट सी कोई आए तो लगता है कि तुम हो
साया कोई लहराए तो लगता है कि तुम हो

जब शाख़ …

आहट सी कोई आए तो लगता है कि तुम हो
साया कोई लहराए तो लगता है कि तुम हो

जब शाख़ कोई हाथ लगाते ही चमन में
शरमाए लचक जाए तो लगता है कि तुम हो
~#जां_निसार_अख़्तर

#बज़्म #शायरी #हिन्दी_शब्द #Ummeed.
#गज़ल https://t.co/DCR6U48zlv
#आहट #स #कई #आए #त #लगत #ह #क #तम #हसय #कई #लहरए #त #लगत #ह #क #तम #हजब #शख

Twitter shayarish by अनिल त्रिपाठी #दीप ✍️

Leave a Reply