आज फिर हुआ गली मे तमाशा, वो मुझे , मैं उसे, और लोग हमे दिखते रहे… ! डायरी की…

आज फिर हुआ गली मे तमाशा,
वो मुझे , मैं उसे, और लोग हमे दिखते रहे… !
डायरी की शायरी 🖋📖❤
_मिश्रा जी❤
आज फिर हुआ गली मे तमाशा,
वो मुझे , मैं उसे, और लोग हमे दिखते रहे… !
डायरी की…

आज फिर हुआ गली मे तमाशा,
वो मुझे , मैं उसे, और लोग हमे दिखते रहे… !
डायरी की शायरी 🖋📖❤
_मिश्रा जी❤
#आज #फर #हआ #गल #म #तमश #व #मझ #म #उस #और #लग #हम #दखत #रह #डयर #क

Twitter shayarish by Mishra ji 🇮🇳