You are currently viewing आज के हालात पर मेरी सच्ची शायरी।

दुनिया में इस तरह का तमाशा ना कीजिए ।
घर फूंक …
-के-हालात-पर-मेरी-सच्ची-शायरी।-दुनिया-में-इस

आज के हालात पर मेरी सच्ची शायरी। दुनिया में इस तरह का तमाशा ना कीजिए । घर फूंक …

[ad_1]

आज के हालात पर मेरी सच्ची शायरी

दुनिया में इस तरह का तमाशा ना कीजिए ।
घर फूंक कर किसी का उजाला ना कीजिए।

– अबुज़र नवेद, शायर ✍
👉 @shayar_abuzar

दोस्तो आप मेरी विडियो एक बार ज़रूर सुनिए,
बात अगर सच्ची है तो आप मेरी पोस्ट को ज़रूर #Retweet करें।
शुक्रिया 🙏 https://t.co/ie07Inkd3S

[ad_2]

Source by Abuzar Naved

Leave a Reply