अनजाना कलाम प्यार का पढ़कर हैरान होता हु बेनाम लिखती है वो शायरी कोई “अनामिका”…

[ad_1]

अनजाना कलाम प्यार का
पढ़कर हैरान होता हु

बेनाम लिखती है वो शायरी
कोई “अनामिका” ही होगी

– pb 💙 https://t.co/7cao5RREPJ
[ad_2]

Source by Peter Babu

Leave a Reply