You are currently viewing अजब का दस्तूर है
इस इश्क का ,
जिसे मिलता वो
निभा नहीं पाता ,
और जिसे ना मिले 
वो…
अजब-का-दस्तूर-है-इस-इश्क-का-जिसे-मिलता

अजब का दस्तूर है इस इश्क का , जिसे मिलता वो निभा नहीं पाता , और जिसे ना मिले वो…

[ad_1]

अजब का दस्तूर है
इस इश्क का ,
जिसे मिलता वो
निभा नहीं पाता ,
और जिसे ना मिले
वो उन प्यार के चंद लम्हों
को ज़िन्दगी भर भूला नहीं पाता …
.
#Chahita_2126✍️
#बज़्म #शायरांश #शायरी
#काव्य_कृति #काव्य https://t.co/fGTwQDNdBe
[ad_2]

Source by Harshita Kumari