Yeh Ladki Hai Ya Shola Lyrics-Lata Mangeshkar, Kishore Kumar, Silsila

Title – ये लड़की है या शोला Lyrics
Movie/Album- सिलसिला Lyrics-1981
Music By- शिव -हरि
Lyrics- राजेन्द्र कृष्ण
Singer(s)- लता मंगेशकर, किशोर कुमार

हाँ पहली -पहली बार देखा ऐसा जलवा
ये लड़की है या शोला
हो शोला है शोला, शोले से डरना
मरना तो ठंडे पानी में मरना
रहम जवानी पे खा
ओ मुंडेया रहम जवानी पे खा

लूटे ना जवानी में जो शोलों का मज़ा
तो बोलो वो आदमी है क्या
आई है नयी -नयी जुल्मी जवानी
करता है बढ़ के बातें दीवानी
खैर तू दिल की मना
ओ बबुआ खैर तू दिल की मना

दिल जैसी चीज़ की मनाऊँ खैर क्या
मैं तो दोनों जहान से गया
जा रे शिकारी तेरा जाल पुराना
और कहीं पे जा के डाल ये दाना
चिड़िया फँसे ना लम्बुआ
ओ लम्बुआ कुड़ी फँसे ना लम्बुआ

दूर कैसे होगा तेरा मेरा फासला
रब जाणे या दिल मेरा
अभी तो देखा है जलवा दूर का
हाल बुरा है मेरे हजूर का
हाथ पकड़ के दिखा ओ सोणेया
हाथ पकड़ के दिखा
पकड़ी कलाई तो ना छोड़ूँगा कभी
ओ सोणिये याद रखना…

Leave a Reply