Taaron Ka Chamakta Gehna Ho Udit Narayan, Hum Tumhare Hain Sanam

Title~ तारों का चमकता गहना हो
Movie/Album~ हम तुम्हारे हैं सनम 2002
Music~ बाली ब्रह्मभट्ट
Lyrics~ समीर
Singer(s)~ उदित नारायण, बाली ब्रह्मभट्ट

तारों का चमकता गहना हो
फूलों की महकती वादी हो
उस घर में खुशहाली आये
जिस घर में तुम्हारी शादी हो
तारों का चमकता…

ये फूल तुम्हारे जेवर हैं
ये चाँद तुम्हारा आईना
तू जब ऐसे शरमाती हो
दुल्हे का धड़कता है सीना
हर आईना तुमको देखे
तुम तो ऐसी शहज़ादी हो
उस घर में खुशहाली…

मेरी बहना है फूल बहारों का
मेरी बहना है नूर नज़ारों का
मेरी बहना के जैसी कोई बहना नहीं
बिना इसके कहीं भी मुझे रहना नहीं
जैसे है चाँद सितारों में
मेरी बहना है एक हज़ारों में
हम जैसे भोले-भालों की
ये दुनिया तो है दिलवालों की
तारों का चमकता…

खुशियों के महलों में बैठो
कोई ग़म ना तुम्हारे पास आये
ना उम्र का पहरा हो तुम पे
मेरे दिल की दुआ ये रंग लाये
रब हँसता हुआ रखे तुमको
तुम तो हँसने की आदी हो
उस घर में खुशहाली…

Leave a Reply