Rang Di Preet Ne Rang Di Lyrics- Nitin Mukesh, Kavita Krishnamoorthy, Dhanwan

Title ~ रंग दी प्रीत ने रंग दी Lyrics
Movie/Album ~ धनवान Lyrics- 1993
Music ~ आनंद मिलिंद
Lyrics ~ समीर
Singer (s)~नितिन मुकेश, कविता कृष्णमूर्ति

रंग दी प्रीत ने रंग दी
बाली उमर कोरी कोरी
रंग दी प्रीत ने..

गोरी के रंग रंगा सांवरा
सांवरे के रंग रंगी गोरी
रंग दी प्रीत ने…

जागी उमंगें पागल तरंगें
छेड़ा बसंती बयारो ने
तन मेरा डूबा, मन मेरा डूबा
वो रंग डाला बहारों ने
क्या कह रहा काजल तेरा
छोड़ो ज़रा आँचल मेरा
धरती गगन खुश्बू चमन
खोये हैं मस्ती की बाहों में
भांग दे भांग दे, थोड़ी सी भांग दे
हम भी मानेंगे होली..
फागुन ने पागल किया है
नैना मिले हमसे चोरी
रंग दी प्रीत ने…

साँसों ने जोड़ा साँसे से नाता
बेला यही तो मिलन की है
साँसों ने जोड़ा साँसों से नाता
बेला यही तो मिलन की है
सतरंगी चोली सपनों की डोली
पलकों में सूरज दुल्हन की है
देखूं तुझे चूड़ी बजे
सिन्दूर की बिंदिया सजे
खुशियों भरी शहनाई
बजती है सारी फिज़ाओं में
रंग दी प्रीत ने रंग दी…

Leave a Reply