Nachle Ve Lyrics Sonu Nigam, Sowmya Raoh, Ta Ra Rum Pum

Title~ नचले वे Lyrics
Movie/Album~ ता रा रम पम Lyrics 2007
Music~ विशाल -शेखर
Lyrics~ जावेद अख्तर
Singer(s)~ सोनू निगम, सौम्या राव

नचले वे नचले वे
तू भी नचले वे
नचले वे नचले वे
तू भी नचले वे

तू अगर चाहे तो, धूप में बारिश हो
फूल खिल जाएँ जो, तेरी फ़रमाइश हो
आजा नचले वे नचले वे
नचले वे नचले वे नचले वे
हो तू भी नचले वे नचले वे नचले वे
हो तू भी नचले वे नचले वे नचले वे

तू चाहे तो हवाएँ, तेरे ही गीत गाएँ
तो चाहे तो सितारे, तेरे रास्ते सजाएँ
जितने भी आसमाँ है, तेरे आगे सर झुकाएँ
आजा नचले वे नचले वे…

नचले वे नचले वे…

कोई धुन मस्ती में गाए जा
ऊँची नीची राहों में मुस्कुराए जा
मेरी सुन सपने सजाए जा
फिर अपने ये सपने
सबको दिखलाए जा
तेरे लिए यहाँ पे है
कुछ भी नहीं नामुमकिन
हो जीना क्या जीना
जो के हो मस्ती के बिन
आजा नचले वे नचले वे…

डरना क्यूँ जैसी भी हलचल है
मुश्किल कोई भी हो
कोई उसका हल है
जीना यूँ जैसे जो ये पल है
ये तेरे जीवन का
सबसे पहला पल है
झूम ले तू घूम ले तू
तो जी ले तू हँसते गाते
मौसम जो बीते तो
फिर नहीं लौट के आते
आजा नचले वे नचले वे…

Leave a Reply