Kaahe Chhed Mohe Madhuri Dixit, Pt Birju Maharaj, Kavita Krishnamurthy, Devdas

Title~ काहे छेड़ मोहे
Movie/Album~ देवदास 2002
Music~ इस्माइल दरबार
Lyrics~ बिरजू महाराज
Singer(s)~ माधुरी दीक्षित, बिरजू महाराज, कविता कृष्णामूर्ति

मालती गुन्धाय केश प्यारे घुघुवारे
मुख दामिनी-सी दमकत चाल मतवारी

ढाई श्याम रोक लई, रोक लई, रोक लई
ढाई श्याम रोक लई, और चक मुख चूम लई
सर से मोरी चुनरी गयी, गयी गयी
सर से मोरी चुनरी गयी सरक सरक सरक
सरक सरक सरक, सरक सरक सरक

काहे छेड़ छेड़ मोहे गरवा लगाई
काहे छेड़ छेड़ मोहे
नन्द को लाल ऐसो ढीठ
बरबस मोरी लाज लीन्ही, लाज लीन्ही
बिंदा शाम मानत नाही
कासे कहूँ मैं अपने जिया की सुनत नाही माई
काहे छेड़ छेड़ मोहे

दध की भरी मटकी, दध की भरी मटकी
दध की भरी मटकी, लई जात रही डगर बीच
आहट सुन, आहट सुन, आहट सुन
जियरा गयो धड़क धड़क धड़क धड़क
धड़क धड़क धड़क, धड़क धड़क धड़क
काहे छेड़ छेड़ छेड़ छेड़ मोहे

कर पकड़त चुड़ियाँ सब करकीं, करकीं, करकीं
बिंदा शाम मानत नाही…

Leave a Reply