Hum Tumse Juda Hoke -Md.Rafi, Ek Sapera Ek Lutera

Title : हम तुमसे जुदा हो के
Movie/Album/Film: एक सपेरा एक लुटेरा -1965
Music By: उषा खन्ना
Lyrics : असद भोपाली
Singer(s): मो.रफ़ी

हम तुमसे जुदा हो के
मर जाएँगे रो-रो के

दुनिया बड़ी ज़ालिम है, दिल तोड़ के हँसती है
इक मौज किनारे से, मिलने को तरसती है
कह दो न कोई रोके, कह दो न कोई रोके
हम तुमसे जुदा…

सोचा था कभी दो दिल, मिलकर न जुदा होंगे
मालूम न था हम यूँ, नाक़ाम-ए-वफ़ा होंगे
किस्मत ने दिए धोखे, किस्मत ने दिए धोखे
हम तुमसे जुदा…

वादे नहीं भूलेंगे, कसमें नहीं तोड़ेंगे
ये तय है कि हम दोनों, मिलना नहीं छोड़ेंगे
जो रोक सके रोके, जो रोक सके रोके
हम तुमसे जुदा…

Leave a Reply