Hamesha Tumko Chaha Kavita Krishnamurthy, Udit Narayan, Devdas

Title~ हमेशा तुमको चाहा
Movie/Album~ देवदास 2002
Music~ इस्माइल दरबार
Lyrics~ नुसरत बद्र
Singer(s)~ कविता कृष्णामूर्ति, उदित नारायण

आई ख़ुशी की है ये रात आई
सज-धज के बारात है आई
धीरे-धीरे ग़म का सागर
थम गया आँखों में आ कर
गूंज उठी है जो शहनाई
तो आँखों ने ये बात बताई

हमेशा तुमको चाहा, और चाहा
और चाहा चाहा चाहा
हमेशा तुमको चाहा
और चाहा कुछ भी नहीं
तुम्हें दिल ने है पूजा, पूजा, पूजा
और पूजा कुछ भी नहीं
ना ना नहीं, ना ना नहीं
नहीं नहीं नहीं नहीं
कुछ भी नहीं, हो कुछ भी नहीं…

खुशियों में भी छाई उदासी
दर्द की छाया में वो लिपटी
कहने पिया से बस ये आई
कहने पिया से बस ये आई

जो दाग तुमने मुझको दिया
उस दाग से मेरा चेहरा खिला
रखूँगी इसको निशानी बना कर
माथे पे इसको हमेशा सजाकर
ओ प्रीतम, ओ प्रीतम
बिन तेरे मेरे इस जीवन में
कुछ भी नहीं, नहीं नहीं नहीं नहीं
कुछ भी नहीं

बीते लम्हों की यादें लेकर
बोझल क़दमों से वो चल कर
दिल भी रोया और आँख भर आई
मन से ये आवाज़ है आई

वो बचपन की यादें
वो रिश्ते वो नाते, वो सावन के झूले
वो हँसना वो हँसाना, वो रूठ के फिर मनाना
वो हर एक पल
मैं दिल में समाये, दीये में जलाये
ले जा रही हूँ, मैं ले जा रही हूँ
मैं ले जा रही हूँ
ओ प्रीतम, ओ प्रीतम
बिन तेरे मेरे इस…

Leave a Reply