Dard Apnaata Hai Lyrics-Jagjit Singh, Silsilay

Title- दर्द अपनाता है
Movie/Album- सिलसिले Lyrics-1970
Music By- जगजीत सिंह
Lyrics- जावेद अख़्तर
Singer(s)- जगजीत सिंह

दर्द अपनाता है पराये कौन
कौन सुनता है और सुनाए कौन
दर्द अपनाता है…

कौन दोहराए पुरानी बातें
ग़म अभी सोया है, जगाए कौन

वो जो अपने हैं, क्या वो अपने हैं
कौन दुःख झेले, आज़माए कौन

अब सुकूँ है तो भूलने में है
लेकिन उस शख़्स को भुलाए कौन

आज फिर दिल है कुछ उदास-उदास
देखिये आज याद आए कौन
दर्द अपनाता है…

Leave a Reply