दोहा: सद्गुरु जिन का नाम है, मन के भीतर धाम है

ऐसे दीनदयाल को मेरा बार बार प्रणाम है Bhajan Lyrics

दोहा: सद्गुरु जिन का नाम है, मन के भीतर धाम है
ऐसे दीनदयाल को मेरा बार बार ्रणाम है

   कैसे करूँ मैं वंदना, ना स्वर है ना आवाज
   आज पृख्शा है मेरी, मेरी लाज राखो गुरु आप

   कबीरा जब हम पैदा हुए, जग हसे हम रोए
   ऐसी करनी कर चलो, हम हसे जग रोए

   तीन लोक नव खंड में, गुरु से बड़ो ना कोय
   प्रभु कहे सो टल सके, पर गुरु कहे सो होए

   सब धरती कागज़ करूँ, लेखनी सब वनराय
   समुद्र को स्याही, पर गुरु गुण लिख्यो ना जाए

सारे तीर्थ धाम आपके चरणो में,
हे गुरुदेव प्रणाम आपके चरणो में

हृदय में माँ गौरी लक्ष्मी, कंठ शारदा माता है
जो भी मुख से वचन कहें, वो वचन सिद्ध हो जाता है
हैं गुरु ब्रह्मा, हैं गुरु विष्णु, हैं शंकर भगवान आपके चरणो में
हे गुरुदेव प्रणाम आपके चरणो में…

जनम के दाता मात पिता हैं, आप करम के दाता हैं
आप मिलाते हैं ईश्वर से, आप ही भाग्य विधाता हैं
दुखिया मन को रोगी तन को, मिलता है आराम आपके चरणो में
हे गुरुदेव प्रणाम आपके चरणो में…

निर्बल को बलवान बना दो, मूर्ख को गुणवान प्रभु
‘देवकमल’ और ‘वंसी’ को भी ज्ञान का दो वरदान गुरु
हे महा दानी हे महा ज्ञानी, रहूँ मैं सुबहो श्याम आपके चरणो में

Watch Bhajan Music video

saare tirath dham apke charno me he gurudev pranaam aapke charno me Bhajan Lyrics

dohaa: sadguru jin ka naam hai, man ke bheetar dhaam hai
aise deenadayaal ko mera baar baar pranaam hai

   kaise karoon mainvandana, na svar hai na aavaaj
   aaj parakhsha hai meri, meri laaj raakho guru aap

   kabeera jab ham paida hue, jag hase ham roe
   aisi karani kar chalo, ham hase jag roe

   teen lok nav khand me, guru se bado na koy
   prbhu kahe so tal sake, par guru kahe so hoe

   sab dharati kaagaz karoon, lekhani sab vanaraay
   samudr ko syaahi, par guru gun likhyo na jaae

saare teerth dhaam aapake charano me,
he gurudev pranaam aapake charano me

haraday me ma gauri lakshmi, kanth shaarada maata hai
jo bhi mukh se vchan kahen, vo vchan siddh ho jaata hai
hain guru brahama, hain guru vishnu, hain shankar bhagavaan aapake charano me
he gurudev pranaam aapake charano me…

janam ke daata maat pita hain, aap karam ke daata hain
aap milaate hain eeshvar se, aap hi bhaagy vidhaata hain
dukhiya man ko rogi tan ko, milata hai aaram aapake charano me
he gurudev pranaam aapake charano me…

nirbal ko balavaan bana do, moorkh ko gunavaan prbhu
‘devakamal’ aur ‘vansee’ ko bhi gyaan ka do varadaan guru
he maha daani he maha gyaani, rahoon mainsubaho shyaam aapake charano me
he gurudev pranaam aapake charano me…

dohaa: sadguru jin ka naam hai, man ke bheetar dhaam hai
aise deenadayaal ko mera baar baar pranaam hai

saare tirath dham apke charno me he gurudev pranaam aapke charno me Lyrics

Leave a Comment